कजिन सिस्टर के साथ फर्स्ट सेक्स


हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम सिंघ हे और में आज अपना एकदम सच्चा सेक्स अनुभव शेयर करने जा रहा हु. वैसे में करनाल का रहने वाला हु और में चंडीगढ़ में जॉब कर रहा हु. दोस्तों मेरी उमर २२ साल हे और मेंरा लंड एकदम कडक होने पर एकदम ८ इंच लंबा और ढाई इंच मोटा हो जाता हे. मुझे भाभी, आंटी और सेक्सी लडकियो के साथ सेक्स करना खूब पसंद हे. दोस्तों में आज आप को अपनी एक एकदम सच्ची सेक्स कहानी बताने जा रहा हु. यह कहानी मेरी और मेरी कजिन बहन के बिच हुई चुदाई की एक सच्ची घटना हे.

मित्रो मुझे सेक्स का बहोत ही ज्यादा शोक हे और में दिन में ५-६ बार अकेले अकेले मेरे घर पर सेक्सी लडकियों को और बड़ी बड़ी गांड वाली औरतो को सोच कर मुठ मर लिया करता हु. चलो अब आप लोगो को ज्यादा परेशान न करते हुए में आज की अपनी स्टोरी पर आता हु. शायद आप सब लोग को यह स्टोरी बहोत ही अजीबो गरीब लगे पर ये जरा भी जूठी नहीं हे. में बचपन से ही गलत दोस्तों की संगत में रहा हु तो तभी से मुझे सेक्स के बारे में बहोत कुछ पता चलने लगा था और मुझे सेक्स करने की बहोत ही ज्यादा इच्छा होती थी और मुझे मेरी साडी तरफ सिर्फ सेक्स सेक्स और सेक्स ही दीखता था. और में मेरे स्कुल टाइम में मेरी सेक्सी टीचर्स को देख कर उनको याद कर कर के घर आकर बहोत मुठ मारा करता था.

फिर जेसे जेसे में बड़ा हुआ वेसे वेसे मेरी सेक्स करने की इच्छा भी बहोत ही ज्यादा बढ़ने लगी थी और मेरी कजिन जिस की उमर उस समय १८ साल थी, और ब्रा साइज़ ३२ और पेंटी की साइज़ ३४ थी. उसको कोई भाई नहीं था और अपने घर में अकेली रहती थी क्योंकि उसके मम्मी पप्पा जॉब पर जाते थे और वह पूरा दिन घर में बैठ बैठ कर एकदम बोर हो जाती थी.

एक दिन ऐसे ही मस्सी का फोन आया और उन्होंने मेरा फोन नम्बर लिया और वह मेरी कजिन बहन को दे दिया ताकि वह मेरे साथ बात कर लिया करे और उसका थोडा टाइम पास भी हो जाये. अब हम आपस में बाते करने लगे थे और बहोत वक्त ऐसे ही बाते करते करते गुजर गया था और हम आखरी बार दो साल पहले मिले थे वह भी एक शादी में. उस समय वह काफी छोटी लग रही थी. सुंदर तो उस समय पर भी बहोत थी पर उसका फिगर अभी उस तरह का नहीं रहा था जब हम आखिरी बार मिले थे.

फिर उसी रात मुझे मेरे मोबाईल पर उसका हाय करके मेसेज आया था और हमने हलकी बात चित शुरू कर दी और एक दुसरे के फोटो भी शेयर किये. मैने उसे देखा तो एकदम देखता ही रह गया क्यूंकि वह काफी बदल चुकी थी और मस्त हो गयी थी. पर उस समय तक मैने मन में उसके लिए कोई भी ऐसा वैसा खयाल नहीं था और अब तो हम रोज फोन पर बाते करने लगे थे और हम लोग आपस में काफी खुल भी गये थे और मैने उसे मेरी गर्ल फ्रेंड मित के बारे में भी बता रखा था. इसके बारे में मेरी लास्ट सेक्स स्टोरी थी की मैने और मित ने हमारा पहला सेक्स किया था.

एक दिन मेरी कजिन की तबीयत खराब थी और उसको फर्स्ट टाइम पीरियड आए थे मैंने पूछा क्या हुआ? तो वह शरमा कर मेरी बात को टाल रही थी. मेरे बार बार पुछ कर जोर करने पर उसने बताया कि उसको आज फर्स्ट टाइम पीरियड आए हैं. वह काफी नर्वस थी और पेन भी बहुत हो रहा था. तो मैंने कहा यह तो लड़की के लिए अच्छी बात है पीरियड आना नहीं तो लड़की कभी मां नहीं बन सकती. तो फिर वह मुझे पूछने लगी की लड़की मां कैसे बनती है? पहले तो मैंने कह दिया नेट पर पढ़ लेना पर उसके जोर डालने पर मैने  बताया कि जब लड़के का सेक्स पार्ट लड़की के सेक्स पार्ट के अंदर जाता है और आगे पीछे करने पर जो लड़के का वीर्य निकलता है उसके अंदर छोड़ने पर उससे बेबी बनता है. तो वह मुझे पूछने लग गई कि यह लड़के का सेक्स पार्ट कैसा होता है, तो मैंने कहा पेनीस लिख कर गूगल कर लेना और देख लेना.

उसने फिर काफी लंड की पिक्स मुझे सेंड कर दी और कहा ऐसे होते हैं? मैंने कहा हां. तो वह कहने लगी कि भाई उसको मेरा वह देखना है, तो उस के जोर डालने पर मैंने अपना लंड को  खड़ा कर के उसकी एक पिक मेरे मोबाईल पर निकली और उसे व्हाट्सअप पर भेज दी. वह कहने लग गई यह काफी बड़ा होता है और लड़की का सेक्स पार्ट जहा से मूत निकलता हे वह तो  काफी छोटा होता है और मेरी चूत में तो एक उंगली भी नहीं जाती. मैंने कहा फर्स्ट टाइम थोड़ा दर्द और खून आता है पर फिर आसानी से वह अंदर आता जाता आहे और ओरतो को और मज़ा आने लगता है.

फिर मैंने उसको जिद करके उसकी चूत की पिक्चर देने को कहा  और उसने वह मुझे भेज दी. पर उस पर हल्के हल्के से बाल और उसके पीरियड की ब्लड और पानी के साथ भरे पढ़े थे. और ऐसे हमारी अब बातें सेक्स की तरफ हो गई अब हम रोज सेक्स चैट करने लग गए. और एक दूसरे को पिक्स भेजने लगे थे. एक दिन उसने अपनी चूत की पिक भेजी बिल्कुल क्लीन शेव और एकदम कच्ची कली की तरह उसकी चूत थी. में तो उसे देख कर आपने आप पर जरा भी कंट्रोल नहीं कर पाया और उस दिन मैंने भी मुठ मार कर वीर्य निकाला और उस की पिक मेरे मोबाईल में निकाल कर के  उसको भेज दी. उसने भी बदले में उसकी चूत पर उंगली कर के अपने पानी की पिक भेज दी. अब आग दोनों तरफ फुल जोरों पर थी.

हमको 10 दिन हो गए थे बातें करते करते पर मिलने का कोई प्लान नहीं बन रहा था. फिर एक रिश्तेदार के यहां बर्थडे पार्टी थी तो माँ पंजाब में होने की वजह से घर वालों ने मुझे ही वहां भेज दिया. तो मैंने जान बूझ कर 3 दिन की छुट्टी ले ली ऑफिस से. और पार्टी फ्राइडे को थी, मैंने प्लान बनाया कि फ्राइडे को पार्टी अटेंड कर के मोसी जी के पास चला जाऊंगा ताकि सेटरडे दिन को अपनी कजिन के साथ बिता सकु. और उसको मैंने यह सब बता दियाऔर मेरा उसके साथ मस्ती करने का प्लान भी मैने उसको बता दिया था. और वह सुनकर काफी खुश हो गई और जैसे ही फ्राइडे आया मैंने पहले ही एक सेक्सी ब्रा पैंटी का जोड़ा ले लिया और उसके लिए  गिफ्ट पैक कर लिया, एक चॉकलेट का पैक भी ले लिया था. अब फ्राइडे को में सब से मिला और वह उस पार्टी में मस्त लग रही थी. फिर मैने उसको हाय कहा और बाकि लोगो से मिला. और फिर मैंने उसको बाथ रुम में बुलाया और उसे कस के पकड लिया और उसके के गले लग गया और वह  उस को किस किया. यह उसका फर्स्ट टाइम किस था और वह पूरी लाल हो गई थी किस की वजह से. वह हमारा पहला किस पुरे १५ मिनिट तक चला था. तब मैने उसके सुट के ऊपर से उसकी चूची दबाई और उसके चुचे बहोत ही सॉफ्ट थे. तब मैने उसके साथ कुछ ज्यादा नही किया कही किसी को कुछ भी शक हो सकता था तो मैने उसके साथ कुछ ज्यादा नही किया. और फिर हम दोनो फिर से पार्टी में आ गये और पार्टी एन्जॉय करने लगे तब मैने खुब जि भर के डांस किया और पार्टी ख़त्म होने के बाद में मासी के घर चला आया. और तब मैने मेरे घर पे फोन कर के बता दिया के में अब अगले दो दिनों तक यही मासी के घर पर रुकने वाला हु, और मुझे देख के मेरी मासी बहोत ही खुश हुई, क्योंकि में काफी सालो के बाद उसके घर पर गया था. मेरी कजिन बहन को तो पहले ही सब प्लान पता था तो वह तो उस दिन सुबह से एकदम खुश खुश नजर आ रही थी.

फिर मैं अंदर गया और हम लोगों ने साथ में बैठकर चाय पी फिर हम लोग बातें करने लगे और ऐसे ही इधर उधर की बातें करते करते रात हो गई और हमने खाना खाया और मैं और मेरी बहन टीवी  देखने लग गई मासी और उसके हस्बैंड अपने रूम में जाकर सो गए. उनके जाते ही मेरी बहन मेरे पास आ गई और मेरे छाती पर हाथ फेरने लगी और फिर मुझे इशारा करके रूम की तरफ ले गई. रूम में जाते ही हम एक दूसरे को लिपट गए और पागलों की तरह किस करने लग गए. उसका रूम मासी के रूम के साथ जुड़ा हुआ था, तब हम वहां ज्यादा कुछ नहीं कर सकते थे क्यांकि हमारी कुछ आवाज निकलटी तो उनको शक हो सकता था तो उसने मुझसे कहा कि आप अब बाहर चले जाओ हमारे पास कल का पूरा दिन है हम आराम से करेंगे. फिर मैं उसको एक लंबा किस देकर हॉल में आकर सो गया पर मुझे नींद नहीं आ रही थी और कल का इंतजार नहीं हो रहा था. तो मैं बाथरूम में गया और एक बार उसको याद कर के उसके  नाम की मुठ मार कर आ गया और फिर सो गया. और में आब सोच ने लग गया था की में उसे अगले दिन किस किs तरह से चोदुंगा और उसे क्या क्या कर के गर्म करूँगा और फिर यह सब सोचते सोचते मुझे कब नींद आ गयी मुझे कुछ भी समज में नहीं आया.

अगले दिन सुबह उसने मुझे उठाया और चाय दी. उस समय मासी किचन में थी तो उनके हस्बेंड नहा रहे थे तो उसने मुझे एक हल्की सी लिप किस भी कर दी. फिर 9:00 बजे तक मासी और उनके हस्बैंड अपनी जॉब पर चले गए, और मेरी कजिन ने कहा कि भाई पहली बार आया है तो वह घर में अकेला बोर हो जायेगा मुझे कंपनी देने के लिए घर पर ही रुक जाएगी. में तो मेरी बहन को चोदने के लिए कब से उतावला हो रहा था और इंतजार कर रहा था की वह लोग कब बहार जाते हे और कब हम अपने मजे शुरू करते हे. और उनके जाते ही मैंने उसको दोनों गिफ्ट दिए उसने उन गिफ्ट को खोल कर देखें और कहा कि उस को चॉकलेट बहुत पसंद है. और उसको मैंने वह ब्रा और पेंटी डाल कर आने को कही और वह तुरंत उसको अंदर जाकर पहन कर आ गई. लाल कलर की ब्रा पैंटी में वह एकदम माल लग रही थी.

तो मैंने उसे जोर से हग किया और उसके होंठ पर अपने होंठ रख दिए और 30 मिनट तक जबरदस्त किस किया.

फिर उसने मुझे खुद से अलग किया और ब्रा उतार फेंकी और मुझे वापस अपनी तरफ खींचा और मेरा मुंह अपने बूब्स पर रखकर उसे दबा दिया मैं भी मजे से उस के बूब्स को चूस रहा था और उस के निपल को काट रहा था. मेरे निपल काटने की वजह से वह बोली

वह :  प्लीज भैया जरा आराम से करो मैं कहीं भागी थोड़ी ना जा रही हूं? प्लीज आई प्लीज भैया धीरे धीरे करो अहः औआऊच भैया प्लीज़ धीरे करो ना.

मैं  : काटने में ही तो मजा है मेरी प्यारी बहन. कुछ देर बाद तुम्हें भी मजा आएगा तब तक तुम थोड़ा सहन कर लो.

फिर मैं एक हाथ से उसके दूसरे निपल को खींच रहा था और मसल रहा था और दूसरे हाथ से उसकी पैंटी के ऊपर मसल रहा था. उसकी पेंटी अब बहोत ही गीली हो चुकी थी क्योंकि वह अब बहोत गर्म हो चुकी थी और उस की चूत में से रस निकलने लगा था.

वह : भइया प्लीज भइया और जोर से और जोर से करो मुझे बहुत मजा आ रहा है. मुझे ऐसा मजा  आज तक मेरी जिंदगी में कभी नहीं आया और जोर से करो भइया प्लीज़ ज़ोर से करो.

फिर मैंने उसकी पैंटी उतार फेंकी और उसकी एकदम रस भरी चूत के दर्शन किए.. उसकी चूत पर जाटों का जंगल था, मैंने उसे बेड पर सीधा लिटाया और उसके दोनों पैरों को फैला दिया और उसकी चूत को अपने मुंह में भर लिया. चूत को मुह में लेते हैं कजिन ने  मेरे सर को पकड़कर और भी आगे किया और एक दम उसकी चूत से चिपका दिया तो मैंने भी अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया और उसने चोर चोर से मोन करना शुरू कर दिया. वह सिसकियां लेने लगी और मेरे चूत पर जीभ घुमाने से एकदम मचल रही थी.

कजिन :  हां भैया यह क्या कर रहे हो आप? आई अहः अह्ह्ह ई अहह उह्ह औऔ आआह्ह अमम्म अहः ओह्ह्ह  बहुत ही अच्छा लग रहा है और जोर से करो और जोर से करो भइया मुझे बहुत मजा आ रहा है.

फिर उसने मेरे कपड़े उतारे और मेरे लंड को देख के वह बोली की भिया जेसे पिक्स में देखा था उससे भी ज्यादा मस्त लग रहा है. क्या मैं उसको छू सकती हूं? मैंने कहा यह तुम्हारा ही है तुम्हे जो मर्जी आए वह करो. तो उसने उसे पकड़ा और उसके कोमल हाथ लगते ही मैं स्वर्ग में पहुंच गया. और वह उसको पहले सहलाने लगी और टोपी को ऊपर नीचे करके देखने लगी. मैंने कहा इस को मुंह में ले  कर देख. पहले वह हल्का हल्का ले रही थी फिर आराम आराम से पूरा चूसने लगी फिर मैंने उसे 69 पोजीशन में लाया और अपना लंड चूसने को कहा और वह मेरे लंड को अपने मुंह में लेकर जोर जोर से अंदर बाहर करके और मैं उसकी चूत में उंगली कर रहा था आप उसके बूब्स  भी बहुत जोर जोर से चूस रहा था. फिर 20 मिनट तक चूसने के बाद जब मैं झड़ने वाला था तो मैंने उसके बालों को अपने दोनों हाथों से पकड़ा और अपने लंड को उसके मुंह के अंदर तक जोर जोर से धक्के देते हुए अपना वीर्य रस उसको पिला दिया.

कजिन : भाई आपका वीर्य तो बहुत स्वादिष्ट है. इस बीच वह कई बार जड गई थी. उसका पानी का कोई टेस्ट नहीं था बस हल्का सा नमकीन था.

और फिर मैं उसे कस के पकड़ कर फिर से किस करने लगा और मैंने उसे अपने ऊपर आने को कहा फिर वह मेरे ऊपर आ गई और उसने अपनी चूत को मेरे मुंह पर रख दिया और वह उसे रगड़ने लगी फिर मैंने 15 मिनट उसकी चूत चाटी और दो बार उसकी चूत का पानी पिया

अब वह कहने लगी कि प्लीज़ भैया अब अपना लंड मेरी चूत में डाल दो और बना दो मुझे अपनी रंडी और दे दो मुझे भी यह सुख. फिर मैंने उसको लिटाया और उसकी टांगों को फैलाया और अपना लंड उसकी चूत के ऊपर रखा और हल्का सर धक्का लगाया तो थूक और पानी की वजह से वह फिसल गया.

फिर उसने पकड़ कर चूत के मुंह पर रखा और मैं इस बार थोड़ी ताकत से जोर लगाया तो टोपा अंदर समा गया, और वह चीख उठी. मैंने उसके मुंह पर अपना मुंह रखा और उसके होंठों को चूसने लग गया. और कुछ सेकेंड बाद मैंने एक और जोर का धक्का लगाया इस बार मेरा लंड उसकी चूत में समा गया था. और उसकी आंखों से पानी बहने लगा.

वह मुझे अपने से दूर करने की एकदम नाकाम कोशिश कर रही थी. मैं भी उसको देर ना करते हुए उसको चूसता रहा और जैसे ही मुझे लगा कि उसका दर्द कम हो गया है मैंने एक और धक्का मारा और इस बार मेरा पूरा लंड उसके अंदर समा गया और वह चीखती इससे पहले मैंने उसके होंठ चूसने शुरू कर दिए कुछ सेकेंड बाद मैंने फिर लंड को थोड़ा आगे पीछे करना शुरु कर दिया, तो मुझे काफी टाइट चूत महसूस हो रही थी. और मैं आराम आराम से धक्के लगाने लगा और अब उसका दर्द कम हो गया था और वह मेरा साथ दे रही थी.

फिर 10 मिनट के बाद मैंने उसको डॉगी स्टाइल में आने को कहा और पीछे से आकर उसे चोदना शुरू कर दिया. में बीच बीच में उसके चुचे दबा रहा था, और हमारी चुदाई की आवाज अब पुरे रुम में गूंजने लगी थी. और वह आह्ह आह्ह अहहह अह्ह्ह फक मी आह्ह फक मी आह्ह फक मी हार्ड आह्ह अह्ह्ह  की आवाज  निकालकर मुझे और मदहोश कर रही थी. अब तक वो तीन बार झड़ चुकी थी अब मेरा भी निकलने वाला था. और उसने मुझे अब कस कर पकड़ लिया मुझे पता लग गया कि यह अब फिर झड़ने वाली है और मैंने भी अपने धक्के  जोर से कर दिए.

अब हम दोनों एक साथ ही जड गये और मैंने अपना सारा वीर्य उसके चूत में ही निकाल दिया और उसके ऊपर लेट गया. 20 मिनट के बाद जब हम उठे तब मेरा लंड उसकी चूत में ही था जो कि हमारी पानी और उसके खून से भरा हुआ था, उसने जब देखा तो वह थोड़ी घबरा गई और बेडशीट भी गंदी हो गई थी और वह उठी और बेडशीट से नीचे उतरी तो उससे चला नहीं जा रहा था क्योंकि यह उसका पहला टाइम था और वह 18 साल की थी. पर उसने फिर मुझे पकड़ लिया और कहां थैंक्यू भाई इतने प्यार से मुझे चोदने के लिए, मुझे बहुत मजा आया. और फिर मैंने उसको गोद में उठा कर बाथरूम में ले जाकर साफ किया और फिर साथ में नहाए और बेड शीट भी चेंज की और रुम की साफ सफाई कर दी.

फिर बाथरुम में आकर हम दोनों ने बेड सीट को धोया और उस समय हम नंगे ही थे. उसको देख कर मेरा लंड फिर खड़ा हो गया. और वह मैरे लड को देख कर बोली की  इस को क्या चाहिए? और वह उसको पकड़ कर फिर से सहलाने लगी, और मैंने भी उस को किस किया और उसके बूब्स दबा के उसको तैयार किया. इस बार मैंने बड़े प्यार से उसको बाथरूम में चोदा क्योंकि उसकी चूत हल्की सी सूज भी गई थी और अब उसको और भी ज्यादा मजा आ रहा था. हमने उस दिन सुबह से लेकर शाम तक तीन बार सेक्स किया और शाम को हमने मार्केट से जाकर आई पिल की गोली उसको लाकर दी और उसने ले ली. और रात को एक बार बाथरुम में भी करा कंडोम लगा कर. दुसरे दिन  रविवार को मैं अपने घर आ गया और उससे रात उसका फोन आया और कहने लगी कि यह उस पल को कभी नहीं भूलेगी.


Online porn video at mobile phone


antarvasn comindian sex stories insex kahani with imagehindi sex imagesex stories in hindi with picsbhai behan chudai story in hindihindi sexe storechoot me khujlibhabhi ko choda bus mehindipornstoriessuhagraat chudai kahanisasur ne bahu ko choda storydost ke biwi ki chudaisagi behan ki gand marilatest hindi sexstoriesbua ki chudai dekhineha ki chudai hindimaa ki gaand choditeacher student ki chudai ki kahanimami ki beti ki chudaihindi sex store sitepornstory hindiapni tution teacher ko chodahindi chachi ki chudai storychudakkad auntymummy ko chudte dekhameri kunwari chut ki chudaifucking stories in hindi fontbhai behan sex storybest hindi sex storiesdesi aunty sex storymanju bhabhi ki chudaiantervashana combahoo ki chudaididi ki saheli ki chudaiantrawanahindi sexy storisex hindi stories combig boobs ki kahaniarmy wale ki wife ko chodaphoto chudai kahanischool teacher ki chudai kahaniantarvasna mausichachi ko neend me chodajija ne mujhe chodachudai ki kahani jija salibiwi ki chudai dekhihindi writing chudai kahanimaa ka gangbanghindi sex kahani phototrain mai chudai storykhala ki chudai comhindi sex picschudakkad auntybeti baap ki chudai ki kahanihindi font erotic storieschoot marne ki kahanimarwadi sexy storydesi incest stories in hindibhai behan story hindichut me loda storysali ki gandnew sex storyhindi sex story hindi sex storyfamily chudai hindi storymodeling ke bahane chudaiteacher ki gaandbahan ki chudai story in hindibahan ki gand mari storybiwi ki gaand marihindi mom sex storyhindi chudai kahani